Ảnh đại diện của shreekrishna

#shreekrishna

  • 97,422 bài viết
Bài viết hàng đầu
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले 〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️ गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से निकले श्री गंगा जी का तट हो, यमुना का वंशीवट हो मेरा सांवरा निकट हो जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले पीताम्बरी कसी हो छवि मन में यह बसी हो होठों पे कुछ हसी हो जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले श्री वृन्दावन का स्थल हो मेरे मुख में तुलसी दल हो विष्णु चरण का जल हो जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले जब कंठ प्राण आवे कोई रोग ना सतावे यम दर्शना दिखावे जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले उस वक़्त जल्दी आना नहीं श्याम भूल जाना राधा को साथ लाना जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले सुधि होवे नाही तन की तैयारी हो गमन की लकड़ी हो ब्रज के वन की जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले एक भक्त की है अर्जी खुदगर्ज की है गरजी आगे तुम्हारी मर्जी जब प्राण तन से निकले इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से निकले 〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️🔹〰️〰️ #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalram
-प्रेम भाव के भूखे भगवन--! एक बार नारद जी प्रभु श्रीकृष्ण के यहाँ पहुँचे और भगवान श्रीकृष्ण के कक्ष में प्रवेश करने ही वाले थे कि मार्ग में द्वारपालों ने रोक लिया। *नारद जी--* क्यों द्वारपाल हमें क्यों रोक रहे हो *द्वारपाल--* क्षमा करें नारद मुनि प्रभु पूजा में व्यस्त है। *नारद जी--* क्या कहा प्रभु पूजा में व्यस्त है। त्रिलोकीनाथ स्वयं पूजा कर रहे है जिनको सारी सृष्टि पूजती है भला वे किनकी पूजा करते होंगेनहीं! नहीं बात कोई और होगी तुम हमें बहला रहे हो द्वारपाल फिर प्रभु भीतर से बाहर आए और नारद जी को देखते ही बोले-- क्यों नारद जी क्या हुआ *नारद जी--* प्रभु यह द्वारपाल बोल रहा है कि आप पूजा में व्यस्त थे। भला आप किनकी पूजा में व्यस्त थे। आपकी पूजा तो सभी करते है। भगवान श्रीकृष्ण--* आइए नारद जी आप स्वयं देख लीजिए कि मैं किसकी पूजा कर रहा था। नारद जी जब भीतर गए तो वहाँ छोटे-छोटे गोपियाँ और ग्वाल आदि के मिट्टी के बने थे। उन सबको देखकर समझ में नहीं आया। भगवान श्रीकृष्ण--* अच्छा नारद जी आप यह बताए कि मेरे भक्त मेरी पूजा क्यों करते है *नारद जी--* क्योंकि आपके भक्त आपसे प्रेम,भक्ति चाहते है। भगवान श्रीकृष्ण--* वही तो मैं भी चाहता हूँ। मैं भी अपने भक्तों से प्रेम की मांग करता हूँ। इसलिए मैं भी अपने भक्तों की पूजा करता हूँ। नारद जी अब समझ गए कि प्रेम की मांग दोनों और से होती है अगर भक्त की चाहत भगवान की प्रेम है तो भगवान की भी चाहत भक्त की प्रेम है। भगवान धरती पर आते है कई कारणों से उन कारणों में एक कारण भक्त की प्रेम को पाना भी होता है। *लेकिन वास्तविकता में कमी हमारे भीतर ही रहती है जो साकार रूप आए परमात्मा के प्रेम की दिव्यलीला में अपनी सेवा अपर्ण नहीं कर सकते है क्योंकि हम उन्हें पहचान नहीं पाते है लेकिन जब वे धरा छोड़ स्वधाम को चले जाते है तो उनके नाम पर मन्दिर बनाकर उनके मूर्ति रखकर पूजना शुरू कर देते है। अच्छी बात है कीजिए लेकिन जो अपने समय आज के समय में आए है साकार रूप धारण किए उन्हें जाने उनकी दिव्यलीला के प्रेम-भाव को चखें और अपने प्रेम-भाव को अपर्ण कर अपना जीवन धन्य-धन्य करें। #हरि_बोल💕💕 #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare
_मन में कृष्ण की पूजा की जा सकती है... भक्ति-रसामृत-सिंधु में, एक कहानी है ... कहानी नहीं । तथ्य । वहाँ वर्णित है कि एक ब्राह्मण- वह एक महान भक्त था वह मंदिर की पूजा में बहुत शानदार सेवा पेश करना चाहता था, अर्चना । लेकिन उसके पास धन नहीं था । लेकिन एक दिन की बात है वह एक भागवत पाठ में बैठा हुआ था और उसने सुना कि कृष्ण मन के भीतर भी पूजे जा सकते हैं । तो उसने इस अवसर का लाभ उठाया क्योंकि वह एक लंबे समय से सोच रहा था कि कैसे बहुत शान से कृष्ण की पूजा करूं, लेकिन उसके धन पैसे नहीं था । तो वह, जब वह यह समझ गया, कि मन के भीतर कृष्ण की पूजा कर सकते हैं, तो गोदावरी नदी में स्नान करने के बाद, वह एक पेड़ के नीचे बैठा हुआ था और अपने मन के भीतर वह बहुत खूबसूरत सिंहासन का निर्माण कर रहा था, गहनों के साथ लदी और सिंहासन पर भगवान के अर्च विग्रह को रखते हुए, वह अर्च विग्रह का अभिषेक कर रहा था गंगा, यमुना, गोदावरी, नर्मदा, कावेरी के जल के साथ । फिर बहुत अच्छी तरह से अर्च विग्रह का श्रृंगार कर रहा था, अौर फूल, माला के साथ पूजा कर रहा था । फिर वह बहुत अच्छी तरह से भोजन पका रहा था, और वह परमान्ना, मीठे चावल पका रहा था । तो वह परखना चाहता था, क्या वह बहुत गर्म था । क्योंकि परमान्ना ठंडा लिया जाता है । परमान्ना बहुत गर्म नहीं लिया जाता है । तो उसने परमान्ना में अपनी उंगली डाली और उसकी उंगली जल गई । तब उसका ध्यान टूटा क्योंकि वहाँ कुछ भी नहीं था । केवल अपने मन के भीतर वह सब कुछ कर रहा था । तो ... लेकिन उसने अपनी उंगली जली हुइ देखी । तो वह चकित रह गया । इस तरह, वैकुन्ठ से नारायण, मुस्कुरा रहे थे । देवी लक्ष्मीजी ने पूछा, "अाप क्यों मुस्कुरा रहे हैं ?" "मेरा एक भक्त इस तरह पूजा करता है । तो मेरे दूतों को तुरंत भेजो उसे वैकुन्ठ लाने के लिए ।" तो भक्ति-योग इतना अच्छा है कि भले ही आपके पास भगवान की भव्य पूजा के लिए साधन न हो, आप मन के भीतर यह कर सकते हो । यह भी संभव है । हरे कृष्ण 🙏 #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalram
भक्त ने भगवान कृष्ण से पूछा हे कृष्ण "किसकी मोहब्बत ज्यादा है, तुम्हारी, या मेरी???" भगवान कृष्ण ने मुस्कुरा के बोले कि -. "जा के समंदर के किनारे तुम अपने हाथों में पानी उठा लेना, जितना तुम उठा लो वो तुम्हारी चाहत ओर जो उठा न सको वो हमारी चाहत..." हरि बोल🙏🌷🙏 #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalrammandir
प्रार्थना......👇 एक घटना कबीर जी के जीवन की है। एक बाजार से कबीर गुजरते हैं। एक बच्चा अपनी मां के साथ बाजार आया है। मां तो शाक-सब्जी खरीदने में लग गई और बच्चा एक बिल्ली के साथ खेलने में लग गया है। वह बिल्ली के साथ खेलने में इतना तल्लीन हो गया है कि भूल ही गया कि बाजार में हैं; भूल ही गया कि मां का साथ छूट गया है; भूल ही गया कि मां कहां गई। कबीर बैठे उसे देख रहे हैं। वे भी बाजार आए हैं, अपना जो कुछ कपड़ा वगैरह बुनते हैं, बेचने। वे देख रहे हैं। उन्होंने देख लिया है कि मां भी साथ थी इसके और वे जानते हैं कि थोड़ी देर में उपद्रव होगा...., क्योंकि मां तो बाजार में कहीं चली गई है और बच्चा बिल्ली के साथ तल्लीन हो गया है। अचानक बिल्ली न छलांग लगाई। वह एक घर में भाग गई। बच्चे को होश आया। उसने चारों तरफ देखा और जोर से आवाज दी मां को। चीख निकल गई। दो घंटे तक खेलता रहा, तब मां की बिल्कुल याद न थी..क्या तुम कहोगे? कबीर अपने भक्तों से कहतेःऐसी ही प्रार्थना है, जब तुम्हें याद आती है और एक चीख निकल जाती है। कितने दिन खेलते रहे संसार में, इससे क्या फर्क पड़ता है? जब चीख निकल जाती है, तो प्रार्थना का जन्म हो जाता है। तब कबीर ने उस बच्चे का हाथ पकड़ा, उसकी मां को खोजने निकले। तब कोई सदगुरु मिल ही जाता है जब तुम्हारी चीख निकल जाती है। जिस दिन तुम्हारी चीख निकलेगी, तुम सदगुरु को कहीं करीब ही पाओगे..पाओगे कोई रैदास, कोई कबीर, कोई नानक, तुम्हारा हाथ पकड़ लेगा और कहेगा कि हम उसे जानते हैं भलीभांति हम उस घर तक पहुंच गए हैं, हम तुझे पहुंचा देते हैं। जय राधा वल्लभ जय #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalram
सुदुखं शयितः पूर्वं प्राप्येदं सुखमुत्तमम् । प्राप्तकालं न जानीते विश्वामित्रो यथा मुनिः ॥ भावार्थ : किसी को जब बहुत दिनों तक अत्यधिक दुःख भोगने के बाद महान सुख मिलता है तो उसे विश्वामित्र मुनि की भांति समय का ज्ञान नहीं रहता - सुख का अधिक समय भी थोड़ा ही जान पड़ता है । 🌼जय जय श्री राधे🌼 #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalram❣️
कर्मफल-यदाचरित कल्याणि ! शुभं वा यदि वाऽशुभम् । तदेव लभते भद्रे! कर्त्ता कर्मजमात्मनः ॥ भावार्थ : मनुष्य जैसा भी अच्छा या बुरा कर्म करता है, उसे वैसा ही फल मिलता है । कर्त्ता को अपने कर्म का फल अवश्य भोगना पड़ता है । 🌼जय जय श्री राधे🌼 #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalram💝💗💖
पूर्व आभासों के आधार पर हम भविष्य के सुख-दुख की कल्पना करते हैं, भविष्य के दुख का कारण दूर करने के लिए हम आज योजना बनातें हैं, परंतु सत्य तो यह है कि संकट और उसका निवारण एक साथ जन्म लेते हैं, व्यक्ति के लिए भी और सृष्टि के लिए भी... जब हम अपने भूतकाल का स्मरण करते हैं, तब यह अनुभव मिलता है कि जब-जब संकट आता है, तब-तब उसका निवारण करने वाली शक्ति भी जन्म लेती है और संकट ही शक्ति के जन्म का कारण बनती है... वास्तव मे संकट का जन्म, एक अवसर का जन्म हैं, अपने आपको बदलने का, अपने विचारों को ऊँचाई पर ले जाने का अवसर, अपनी आत्मा को बलवान और ज्ञान से समृद्ध बनाने का अवसर... हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे ।। हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे।। #workforkrishna #shrikrishna #krishnadas #krishnaradhe #krishnamacharya #krishnaleela #lordkrishna #krishnabalaram #krishnaconsciousness #krishnajanmashtami #krishnagiri #krishna #krishnakaul #krishnan #krishnamurti #harekrishna #krishnadasi #krishnachalilondon #shreekrishna #radhakrishna #harekrishnaharekrishnakrishnakrishnahareharehareramahareramaramaramaharehare #prilaga #krishnashroff #krishnalove #krishnakrishna #krishnaquotes #radhekrishna #krishnabalramtemple